Health

कांटेक्ट लेंस के साइड इफेक्ट्स और उनसे होने वाली परेशानियाँ

आँखें हमारे शरीर का सबसे सेन्सटिव हिस्सा हैं. आँखों के चलते ही हम दुनिया की ख़ूबसूरती को देख सकते हैं और रंगों की पहचान कर सकते हैं. लेकिन कईं कारणों के चलते कई बार हमारी आंखें कमजोर पड़ जाती हैं जिसके चलते हमे साफ़ दिखाई नहीं देता. वैसे तो अधिकतर लोग आँखों की परेशानी दूर करने के लिए चश्मा पहनते हैं लेकिन आज की युवा पीढ़ी को चश्मों से अधिक लेंस पसंद आते हैं.

Contact Lens side effects in Hindi

हालाँकि कांटेक्ट लेंस देखने में हमे स्पष्ट रूप से मदद करते हैं लेकिन अगर कोई व्यक्ति बिना सावधानी के इनका इस्तेमाल करता है, तो उसे कईं तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. आपको बता दें कि कांटेक्ट लेंस के कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं जैसे कि आँखों में दर्द रेहना, धुंधला दिखाई देना, फ़ोटोफोबिया यानि प्रकाश संवेदनशीलता, आँखों का लाल पड़ना, आँखों से पानी बहना, आँख के आस पास रक्त वाहिकाओं का अतिवृद्धिपण, आँखों में अल्सर आदि.

कांटेक्ट लेंस दिखने में बेहद छोटे होते हैं लेकिन उतने ही नाजुक भी होते हैं. दरअसल, ये आँख से निकल कर गिर जाए तो फिर किसी काम के नहीं रहते और इनकी बहुत देख बाल भी करनी पड़ती है . वहीँ बात इनके प्राइस की करें तो चश्मे के मुकाबले ये काफी महंगे आते हैं. आँख के कोर्निया में अल्सर और आँखों का धुंधलापन कांटेक्ट लेंस से होने वाली सबसे बड़ी समस्या है. कईं बार मामला इतना गंभीर हो जाता है कि इंसान की दृष्टि हमेशा के लिए जा भी सकती है यानी अंधापन भी छा सकता है.

कांटेक्ट लेंस के नुक्सान- बन सकते हैं गंभीर खतरा (Contact Lens side effects)

  • कांटेक्ट लेंस पहनने से हमारी आँखों को कई बार एलर्जी हो सकती है.
  • इनके इस्तेमाल से कुछ लोगों को आँखों से पानी बहने की समस्या का शिकार होना पड़ता है.
  • कांटेक्ट लेंस से रौशनी के प्रति हमारी आँखों की संवेदनशीलता कम हो सकती है.
  • आँखों में जलन, सुजन, किरकिरापण एवं खुजली कांटेक्ट लेंस से होने वाली आम समस्या है.
  • बहुत से लोग कांटेक्ट लेंस को सही से पहन नहीं पाते और उनकी आँखों में दर्द बना रहता है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close